Breaking News
Home / Uncategorized / उत्तराखंड के छात्रों के लिए फिटजी का डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम सबसे सफल

उत्तराखंड के छात्रों के लिए फिटजी का डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम सबसे सफल

‘‘उपेक्षितों तक पहुंच बनाने’’ और ग्रामीण क्षेत्रों तथा टियर 2 शहरों के छात्रों और नियमित क्लास करने में असमर्थ अभ्यर्थियों के लिए एक अनुकूल प्लेटफाॅर्म देने के लक्ष्य के साथ आईआईटी-जेईई तथा कई अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कराने वाली प्रमुख संस्था फिटजी ने अपने डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम्स के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू कर दी है। इन प्रोग्राम्स में सर्वश्रेष्ठ क्वालिटी, पर्याप्त और आसानी से समझने वाले स्टडी मैटेरियल तथा प्रैक्टिस असाइनमेंट्स शामिल हैं।
फिटजी में नाॅन क्लासरूम प्रोग्राम्स के प्रमुख अमित बंसल बताते हैं, “समाज के पिछड़े क्षेत्रों के जो अभ्यर्थी आईआईटी में सफल तो होना चाहते हैं लेकिन सामथ्र्य के अभाव में ऐसा नहीं कर पाते हैं, उन्हें जेईई की सफलता के लिए सख्त प्रशिक्षण और मागदर्शन की जरूरत होती है। अपनी डिस्टेंस लर्निंग सीरीज के जरिये हम ऐसे अभ्यर्थियों की जरूरतों को पूरा करने का लक्ष्य रखते हैं जो क्लासरूम सीरीज में दाखिला नहीं ले सकते। ऐसे छात्रों तक हम खुद पहुंच बनाते हैं और उन्हें अपना मनोवांछित लक्ष्य पाने के लिए उनकी वास्तविक क्षमता एवं प्रतिभा निखारने में मदद करते हैं।”
उत्तराखंड के छात्र जो इस साल जेईई में फिटजी के डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम से सफल हुए उनके नाम है आकाश कपूर देहरादून ( एआईआर 95 जो की स्टेट टॉपर है ) निदांशु अरोड़ा रुड़की ( एआईआर 160) शुभंकर मिहिर सेठ देहरादून ( एआईआर 727 ) लक्ष्य गर्ग हरिद्वार ( एआईआर 6642 ) है।
वह इस बात पर भी जोर देते हैं कि कोई छात्र चाहे किसी भी संस्थान में दाखिला ले ले लेकिन उसकी पढ़ाई फिटजी डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम के बगैर पूरी नहीं होती है। इसका जीता-जागता प्रमाण जेईई एडवांस्ड 2016 की परीक्षा में राष्ट्रीय स्तर के टाॅपर अमन बंसल (एआईआर1), कुणाल गोयल (एआईआर3) और लड़कियों में टाॅपर रिया सिंह का असाधारण प्रदर्शन है। इन तीनों छात्रों ने फिटजी के डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम का सहारा लिया था जबकि ये अलग-अलग संस्थानों से जुड़कर तैयारी की थी। फिटजी की स्टडी मैटेरियल और टेस्ट सीरीज जेईई के अभ्यर्थियों में सबसे लोकप्रिय हो चुकी हैं और ये छात्रों की सफलता में अहम योगदान करती हैं।
जेईई-2016 में फिटजी के परफाॅर्मेंस के बारे में पूछे जाने पर बंसल बताते हैं कि फिटजी के 55 प्रतिशत से अधिक डिस्टेंस लर्निंग छात्रों ने जेईई एडवांस्ड 2016 में सफलता अर्जित की है। उन्होंने बताया कि फिटजी छात्रों को विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में कैरियर संवारने के लिए विभिन्न प्रोग्राम्स की पेशकश करती है। उन्होंने कहा, “इस पाठ्यक्रम में काॅन्सेप्ट आधारित स्टडी मैटेरियल हैं जो किसी भी शिक्षा बोर्ड, आॅनलाइन क्विज सीरीज, आॅनलाइन शंका निवारण सहायता तथा आॅनलाइन टिप्स के मामले में पैटर्न प्रूफ है। इन्हीं असाइनमेंट्स के आधार पर छात्रों के अंक और प्रदर्शन का मूल्यांकन वेब पर उपलब्ध कराए जाते हैं। इन टेस्ट में कठिन प्रश्नों का स्तर रणनीतिक तरीके से बदलता रहता है ताकि छात्र सभी प्रकार के प्रश्न पत्रों और विभिन्न स्तर के प्रश्नों को हल करने की तैयारी कर सकें।”
फिटजी का डिस्टेंस लर्निंग प्रोग्राम काॅन्सेप्ट आधारित स्टडी और जेईई पैटर्न के प्रैक्टिस प्रश्न-पत्रों के लिए वैज्ञानिक तरीके से डिजाइन किए गए हैं। इन प्रोग्राम्स के जरिये फिटजी अपने स्टडी सेंटरों में पैटर्न प्रूफ स्टडी मैटेरियल, चरणबद्ध टेस्ट, प्रश्न हल करने, काॅन्सेप्ट मजबूत करने की आॅनलाइन सीरीज, आॅल इंडिया टेस्ट सीरीज, क्रमबद्ध तरीके से एक-एक संदेह का निवारण तथा एनालिसिस सेशन की पेशकश करती है।
दरअसल, हमारे एक्सपर्ट फैकल्टी फिटजी के छात्रों को अन्य छात्रों के मुकाबले श्रेष्ठ बनाने के लिए टेस्ट सीरीज की बार-बार डिजाइनिंग और संशोधन करते रहते हैं। देश के लगभग सभी संस्थानों के ज्यादातर टाॅपर्स और रैंक होल्डर्स फिटजी की आॅल इंडिया टेस्ट सीरीज में हिस्सा ले चुके हैं।”

About admin@live

Check Also

किसान यात्रा: पीएम मोदी पर जमकर बरसे राहुल, खाट के लिए मची लूट

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के रुद्रपुर से शुरू हुई कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की …

One comment

  1. Whoa, whoa, get out the way with that good infomrtaion.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *